गुरुवार, 25 जून 2015

दिल्ली पुलिस बहुत बिजी है!!!

स्कूल स‌े कॉलेज तक कितनी लड़कियों को धोखा दिया?
पत्नी को धोखा देकर दूसरी के चक्कर में कब-कब पड़ा? 
अब तक कितनी बार अपनी पत्नी स‌े मारपीट की? 
पत्नी स‌े किये गये वायदों में कौन-कौन स‌े नहीं निभाये?
राजनीति में क्यों आया, वही काम करता जो कर रहा था?
राजनीति करनी ही थी, तो भाजपा ज्वाइन करता, ये पार्टी क्यों ज्वाइन की?
पड़ोसी के स‌ाथ कितनी बार कहासुनी और मारपीट हुई?
पड़ोसी के लड़के को पीटकर कितनी बार मामला थाने तक पहुंचा?
क्लास में स‌हपाठियों के बस्तों स‌े कितनी पेंसिल चुराईं?
किन-किन स्कूलों के स‌ीसीटीवी फुटेज स‌े चोरी के स‌बूत मिल स‌कते हैं?
स्कूल स‌े कॉलेज तक कहीं कई फर्जी डिग्री तो नहीं?
स्कूल कॉलेज में पढ़ाई के दौरान कितनी बार क्लॉस बंक की?
परीक्षा के दौरान कौन-कौन स‌े पेपर में नकल मारी?
अब तक पढ़ाई करके पास हुआ है या हमेशा नकल करके?
देशभक्त पार्टी स‌े ताल्लुक रखने वाले कितने नेताओं की मानहानि की?
अब तक कितने स्टिंग में पकड़ा गया?
कितने लोगों स‌े उधार लिया और कितनों का नहीं लौटाया?
कहां रहता है, वहां रहता है तो वहीं क्यों रहता है?
तीन-चार कमरे का फ्लैट क्यों खरीदा, एक कमरे का क्यों नहीं?
कितने घर हैं, कितनी जमीन-जायदाद है?
कौन स‌ी कार है, बड़ी कार की क्या जरूरत मारुति 800 स‌े नहीं चल स‌कता?
कार की क्या जरूरत है, मोटरसाइकिल स‌े नहीं चल स‌कता?
मोटरसाइकिल की क्या जरूरत है, स‌ाइकिल स‌े नहीं चल स‌कता?
स‌ाइकिल की क्या जरूरत है, पैदल नहीं चल स‌कता, भगवान ने पैर नहीं दिए?
विधायक क्यों बना, ऎसे भी तो जनता की स‌ेवा कर स‌कता था?
चुनाव क्यों लड़ा, बिना चुनाव लड़े भी तो मंत्री बन स‌कता था?
चुनाव जीता क्यों, हारने के बाद भी तो मंत्री बन स‌कता था?
फर्जी डिग्री क्यों बनवाई, बिना डिग्री के भी तो मंत्री बन स‌कता था?
इतना पैसा कहां स‌े आया, जरूर चोरी की होगी?
कहां-कहां और किस-किस तरह उसे फसाने के चांसेज हैं?
किसी मामलें में जेल भिजवाने की कितनी स‌ंभावना है?
कितना दबाव डालने पर पार्टी छोड़कर राष्ट्रभक्त पार्टी में आ स‌कता है?
कौन स‌ी नस है जिसे दबाने स‌े केजरीवाल का दुश्मन बन स‌कता है?
क्या-क्या करने पर मोदी जी, राजनाथ जी और जंग स‌ाहब स‌े शाबासी मिल स‌कती है?
******************************************
इत्ता स‌ारा इन्वेस्टीगेशन करना, वो भी एक दो नहीं 67 लोगों का...
प्रति व्यक्ति औस‌तन 12 स‌े 15 डिग्री की स‌च्चाई पता लगाना
और वो स‌ब अलग जो विधायक या मंत्री नहीं है, उन्हें भी किसी न किसी मामले में फंसाना।
ये स‌ब कोई आसान काम है क्या?
वाकई दिल्ली पुलिस के पास बहुत काम है।
कौन कहता है दिल्ली पुलिस काम नहीं करती?

2 comments:

i Blogger ने कहा…

We listed your blog here iBlogger

Kavita Rawat ने कहा…

विचारशील प्रस्तुति
आपको जन्मदिन की बहुत-बहुत हार्दिक शुभकामनाएं

 
Design by Free WordPress Themes | Bloggerized by Lasantha - Premium Blogger Themes | Best Buy Coupons